Breaking NewsNationalSTATE

पश्चिम बंगाल में कहर बनकर टूटी आकाशीय बिजली, 3 जिलों में 23 लोगों की मौत




Sponsored

पश्चिम बंगाल में एक ही दिन में आकाशीय बिजली गिरने से कम से कम 23 लोगों की मौत हो गई. आज दोपहर से शाम के बीच में दक्षिण बंगाल में आंधी के साथ बारिश हुई और लगातार बिजली कड़की. ऐसे में जो लोग घर से बाहर थे, बिजली गिरने से उनमें से बहुतों की मौत हो गई.

Sponsored




Sponsored

सिर्फ हुगली जिले में ही 10 लोगों की मौत हुई है जबकि मुर्शिदाबाद जिले में 9 लोगों की मौत हुई है और पश्चिम मिदनापुर जिले में 2 लोगों की मौत हुई है. हावड़ा जिले में भी बिजली गिरने से दो लोगों की मौत हो गई है.

Sponsored




Sponsored

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस हादसे में मरने वाले लोगों के परिजनों को 2 लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की है. प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट करके मरने वालों के प्रति संवेदना जताई और मुआवजा देने की घोषणा की.

Sponsored




Sponsored

पश्चिम बंगाल में इस मौसम में अचानक से तेज आंधी और बारिश होती है जिसे कालबैसाखी कहा जाता है. हर साल ही काल बैसाखी के दौरान बिजली गिरने या पेड़ गिरने या फिर करंट लगने से कई लोगों की मौत हो जाती है. मौसम विभाग के मुताबिक कोलकाता और उसके आसपास तेज आंधी के दौरान हवा का झोंका लगभग 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से भी चला जो 2 मिनट तक रहा.

Sponsored




Sponsored

राष्ट्र के नाम संदेश में वैक्सीन और कोविड नियंत्रण पर राज्य सरकारों को आईना दिखा गए पीएम मोदी

Sponsored

पश्चिम बंगाल में हुए आकाशीय कहर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी मृतकों के परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की है. पीएम मोदी ने हादसे में घायल लोगों के जल्द ठीक होने की दुआ भी की है. पीएम ने अपने ट्वीट किया है, ‘पश्चिम बंगाल में आकाशीय बिजली गिरने से जिन लोगों के अपनों की मौत हुई है, उनके साथ मेरी संवेदनाएं हैं. प्रार्थना है कि जो लोग घायल हुए हैं, वे जल्द से जल्द ठीक हों.

Sponsored


Sponsored



Sponsored

असम में हाल ही में 18 हाथियों की हुई थी बिजली गिरने से मौत!
इससे पहले असम से आकाशीय बिजली का कहर हाथियों पर टूट पड़ा था. दरअसल 12 मई की रात को 18 हाथियों के ऊपर बिजली गिरी, जिसके बाद 18 हाथियों की मौत हो गई थी. प्रकृति का यह कहर टाठियोटोली रेंज के कुंडोली फॉरेस्ट रिजर्व में टूटा था.

Sponsored




Sponsored
Sponsored

Comment here