Breaking NewsNational

रेस्टोरेंट्स और ब्यूटी पार्लर भी बैंकों से ले सकेंगे लोन, RBI ने शुरू की 15000 करोड़ की ऑन-टैप लिक्विडिटी




Sponsored

कोरोन वायरस (Coronavirus) की दूसरी लहर से बुरी तरह प्रभावित कॉन्टैक्ट-इनटेंसिव सेक्टर्स के लिए भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने बड़ा ऐलान किया है. कॉन्टैक्ट इंटेंसिव सेक्टर के लिए आरबीआई ने 15,000 करोड़ रुपए की ऑन-टैप लिक्विडिटी की शुरुआत की है. इससे रेस्टोरेंट्स, बस ऑपरेटर्स, टूरिज्म, ब्यूटी पार्लर और एविएशन सर्विसेज को अतिरिक्त लेंडिंग सपोर्ट मिलेगा. आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा, RBI वित्तीय स्थिरता का माहौल सुनिश्चित करने के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है.

Sponsored




Sponsored

आरबीआई गवर्नरने कहा कि आरबीआई का ध्यान लिक्विडिटी का समान रूप से वितरण करना है. हमें इकोनॉमी को वापस से ग्रोथ के रास्ते पर ले जाने के लिए सक्रिय रुख अख्तियार करने की जरूरत है. दास ने कहा कि इंडस्ट्री में 36,545 करोड़ रुपए की लिक्विडिटी डाली गई है. गवर्नमेंट सिक्योरिटीज 1.0 (G-Sec) के तहत 40,000 करोड़ रुपए की सिक्योरिटीज खरीदने के लिए एक अन्य अभियान चलाया जाएगा.

Sponsored




Sponsored

31 मार्च 2022 तक मिलेगी सुविधा
आरबीआई गवर्नर ने मॉनेटिरी पॉलिसी की घोषणा करते हुए कहा कि 15,000 करोड़ रुपए की एक अलग लिक्विडिटी विंडो 31 मार्च, 2022 तक खोली जा रही है, जिसमें रेपो दर पर तीन साल तक की अवधि होगी.

Sponsored




Sponsored

इनको मिलेगा नए सिरे से लोन
इस योजना के तहत, बैंक होटल और रेस्टोरेंट्स, टूरिज्म- ट्रैवल एजेंट्स, टूर ऑपरेटर्स, एडवेंचर और हेरिटेज फैसिलिटीज, एविएशन एंसिलरी सर्विसेज- ग्राउंड हैंडलिंग और सप्लाई चेन, और अन्य सर्विसजे में जैसे बस ऑपरेटर्स, कार रिपेयर सर्विसेज, रेंट-अ-कार सर्विस प्रोवाइडर, इवेंट ऑर्गेनाइजर्स, स्पा क्लिनिक्स, ब्यूटी पार्लर्स और सलून को नए सिरे से लोन सहायता प्रदान कर सकते हैं.

Sponsored




Sponsored

कोविड -19 महामारी की दूसरी लहर की छोटे व्यवसायों को सबसे ज्यादा मार पड़ी है और आरबीआई के इन उपायों से उनको राहत मिलने की उम्मीद है. हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि बैंक इन सेक्टर्स को उधार देना चाहेंगे, हाई रिस्क प्रोफाइल को देखते हुए, जो इनको लोन देंगे, वे आरबीआई इनसेंटिन का लाभ उठा सकेंगे.

Sponsored




Sponsored

ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं
इस बार मॉनेटिरी पॉलिसी में केंद्रीय बैंक ने रेपो रेट में बदलाव नहीं किया है. इसे 4 फीसदी पर बरकररार रखा गया, जबकि रिवर्स रेपो रेट 3.35 फीसदी पर बना रहेगा.

Sponsored




Sponsored

SOURCE: TV9

Sponsored




Sponsored
Sponsored

Comment here