Breaking NewsNationalSTATE

UP-दिल्ली के लाखों लोगों के लिए खुशखबरी, होली बाद रफ्तार भरेंगे वाहन

होली त्योहार के बाद दिल्ली के साथ उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद, हापुड़, मेरठ समेत कई जिलों के लाखों लोगों को बड़ी राहत मिलने जा रही है। मिली जानकारी के मुताबिक, एक पखवाड़े बाद यानी 31 मार्च से दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे को वाहनों के लिए खोलने की पूरी तैयारी की जा रही है। केंद्र सरकार के निर्देश पर एनएचएआइ ने इस प्रोजेक्ट के दूसरे चरण में बचे शेष कार्यों को अगले दस दिन में पूरा करने के लिए अतिरिक्त इंजीनियर एवं कामगार लगा दिए हैं।

Sponsored

अंतिम एबीईएस अंडर पास की छत डाल दी गई है। लालकुआं का कार्य अगले तीन दिन में पूरा हो जाएगा। डासना आरओबी एवं एलिवेटिड रोड का निर्माण कार्य पूरा करने के बाद फिनिशिंग का कार्य चल रहा है। एनएचएआइ के अफसर ने बताया कि 31 मार्च को एक्सप्रेस-वे को चालू किए जाने की प्रस्तावित तिथि मिल गई है। चिपियाना आरओबी कार्य जारी रहेगा।

Sponsored

उधर, दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे को खोले जाने को लेकर एनएचएआइ की ओर से कोई बयान नहीं आया है, लेकिन मेरठ के भारतीय जनता पार्टी के सांसद राजेंद्र अग्रवाल ने एलान किया है कि होली बाद आगामी 31 मार्च को एक्सप्रेस-वे खोल दिया जाएगा। जाहिर है कि दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे के चालू होने से दिल्ली-एनसीआर के लोगों को राहत मिलने शुरू हो जाएगी।

Sponsored

20 मार्च तक तैयार हो जाएगा मेरठ डासना खंड

Sponsored

उधर, एनएचएआइ लगातार दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे को समय पर चालू करने का दावा कर रहा है, लेकिन उसने तारीख का एलान विधिवत नहीं किया है। इस बीच एनएचएआइ अधिकारियों का कहना है कि इसी सप्ताह 20 मार्च तक एक्सप्रेस-वे का मेरठ डासना खंड तैयार हो जाएगा। वाहन चालकों के लिए इसे कब खोला जाएगा, इस पर अधिकारियों का कहना है कि इसकी तारीख अभी नहीं बताई गई है।

Sponsored

31 मार्च को चालू हो सकता है दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे

Sponsored

उधर, मेरठ के सांसद राजेंद्र अग्रवाल के एलान पर एनएचएआइ के अधिकारी व दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे के प्रोजेक्ट मैनेजर अरविंद कुमार ने बताया कि किसी भी एक्सप्रेसव-वे का चालू करने की तारीख राजमार्ग मंत्रालय से निर्धारित होती है। यदि सांसद ने 31 मार्च खोलने की घोषणा की है तो मंत्रालय से बात करके ही की होगी। वैसे 31 तक एक्सप्रेस-वे तैयार हो ही जाएगा।

Sponsored

5000 करोड़ की लागत से बना है एक्सप्रेस-वे
बता दें कि तकरीबन 5000 करोड़ की लागत से निर्मित दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस-वे की शुरुआत होने से गाजियाबाद से मेरठ के बीच आना-जाना बेहद आसान हो जाएगा। एनएचएआइ अधिकारियों की मानें तो एक्सप्रेस-वे चालू होने से गाजियाबाद से मेरठ जाने में सिर्फ 25 मिनट लगेंगे, वहीं. दिल्ली से मेरठ का सफर 45 मिनट में पूरा होगा।

Sponsored

पीएम कर सकते हैं उद्घाटन

Sponsored

बता दें कि दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ड्रीम प्रोजेक्ट है। इसके निर्माण का शिलान्यास भी पीएम मोदी ने ही किया था। ऐसे में भारतीय जनता पार्टी के स्थानीय नेताओं और एनएचएआइ की पूरी कोशिश होगी कि इसका उद्घाटन पीएम मोदी ही करें। इन दिनों पीएम मोदी कोरोना वायरस संक्रमण के चलते वर्चुवल उद्घाटन कर रहे हैं, ऐसे में यह संभव है कि दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन भी पीएम मोदी ही करें।

Sponsored
Sponsored

Comment here