Uncategorized

इन राज्यों में गरज-चमक व तेज हवा के साथ बारिश की चेतावनी, जानें- चार दिन कैसा रहेगा मौसम




Sponsored

मौसम में एक बार तेजी से बदलाव देखने को मिल रहा है। उत्तरी पाकिस्तान और आसपास के क्षेत्र में पश्चिमी विक्षोभ  बना हुआ है। पंजाब और इससे सटे पाकिस्तान के कुछ हिस्सों पर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है। इसके प्रभाव से देश के कई राज्यों में गरज-चमक व तेज हवा के साथ बारिश होने की संभावना है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के मुताबिक पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली के कुछ स्थानों पर आंधी, बिजली कड़कने और तेज हवा (40-50 किलोमीटर प्रतिघंटे की गति) चल सकती है।

Sponsored




Sponsored

उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल तथा सिक्किम, मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, कोंकण तथा गोवा, तेलंगाना और केरल तथा माहे के कुछ स्थानों पर बिजली कड़कने और तेज हवा (30-40 किलो मीटर प्रति घंटे की रफ्तार से) की संभावना है। स्काईमेट वेदर के मुताबिक पंजाब, हरियाणा, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और उत्तरी राजस्थान के कुछ हिस्सों में मेघ गर्जना, धूल भरी आंधी और बारिश हो सकती है। राजस्थान के अलग-अलग हिस्सों में लू जारी रह सकती है।

Sponsored




Sponsored

स्काईमेट वेदर के मुताबिक उत्तर पूर्व भारत, तटीय कर्नाटक के कुछ हिस्सों और केरल के कुछ हिस्सों में मध्यम से भारी बारिश और गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है। लक्षद्वीप, शेष केरल, मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, पश्चिम बंगाल और आंध्र प्रदेश के उत्तरी तट पर हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। आंतरिक कर्नाटक, तेलंगाना, विदर्भ, कोंकण और गोवा, पश्चिमी हिमालय, सिक्किम और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हल्की बारिश के साथ एक या दो स्थानों पर मध्यम बारिश हो सकती है।

Sponsored




Sponsored

राजधानी दिल्ली में बारिश की संभावना
राष्ट्रीय राजधानी दिल्‍ली के लोगों को उमस भरी गर्मी से जल्दी ही राहत मिलने की उम्मीद है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के मुताबिक सोमवार यानी 31 मई से से गरज के साथ हल्‍की बारिश का सिलसिला शुरू होगा। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार राजधानी के 2-3 जून को आसमान में बादलों के पहरे के बीच बूंदाबांदी हो सकती है।

Sponsored




Sponsored

उत्तराखंड में मौसम विभाग ने जारी किया येलो अलर्ट
उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में अगले तीन दिन यानी 2 जून तक भारी बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग ने बारिश की संभावना को देखते हुए पहाड़ी जिलों में येलो अलर्ट जारी किया है। प्रदेश में अगले तीन दिनों तक मैदान से लेकर पहाड़ तक झमाझम बारिश के आसार हैं। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक देहरादून, बागेश्वर, नैनीताल और पिथौरागढ़ जैसे जिलों में भारी बारिश के साथ आकाशीय बिजली गिरने की भी संभावना है। वहीं, पर्वतीय क्षेत्रों में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना जताई गई है। मौसम विज्ञानियों का यह भी कहना है कि पहाड़ से लेकर मैदान तक जहां भारी बारिश की उम्मीद है, वहीं मैदानी क्षेत्रों में 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं भी चलेंगी। पहाड़ों के अधिक ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फ भी गिर सकती है।

Sponsored




Sponsored

हिमाचल में तीन दिन अंधड़-बारिश का येलो अलर्ट
मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने सोमवार से तीन दिन अंधड़ और बारिश का येलो अलर्ट जारी किया है। मैदानी और मध्य पर्वतीय क्षेत्रों में 5 जून तक मौसम खराब रहेगा। पांच जून तक पूरे प्रदेश में बारिश-बर्फबारी के आसार हैं।मौसम विभाग के मुताबिक मैदानी और मध्य पर्वतीय क्षेत्रों में 5 जून तक मौसम खराब रहेगा। पांच जून तक पूरे प्रदेश में बारिश-बर्फबारी के आसार हैं। 10 जून के बाद से प्रदेश में प्री मानसून की बौछारें पड़ने के आसार हैं जबकि 25 जून को मानसून दस्तक दे सकता है। शनिवार देर रात राजधानी शिमला समेत प्रदेश के कई इलाकों में झमाझम बारिश भी हुई है। ऊंचाई वाले इलाकों में फिर हलका हिमपात हुआ है। रविवार को शिमला समेत प्रदेश के अन्य जिलों में दिन भर मौसम शुष्क रहा।

Sponsored




Sponsored

जानें- अगले 4 दिन कैसा रहेगा मौसम, कहां होगी बारिश

Sponsored

1 जून
मौसम विभाग के मुताबिक 1 जून को विदर्भ क्षेत्र में अलग-अलग स्थानों पर बिजली, ओलावृष्टि और तेज़ हवाओं (40-50 किमी प्रति घंटे तक की गति) के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है। पूर्वी राजस्थान, पंजाब और हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली में अलग-अलग स्थानों पर बिजली चमकने और तेज हवाओं (40-50 किमी प्रति घंटे तक की गति) के साथ बारिश की संभावना है। वहीं

Sponsored




Sponsored

उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, तटीय आंध्र प्रदेश और यनम, उत्तरी आंतरिक कर्नाटक, केरल, जम्मू, कश्मीर, लद्दाख, गिलगित में अलग-अलग स्थानों पर बिजली चमकने के साथ धूल भरी आंधी और बारिश की हो सकती है। असम और मेघालय में अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा और ओडिशा, कोंकण और गोवा, तेलंगाना, आंतरिक कर्नाटक, अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा, तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल में अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा की संभावना है।

Sponsored




Sponsored

2 जून
मौसम विभाग के मुताबिक पूर्वी राजस्थान में अलग-अलग स्थानों पर बिजली चमकने और तेज़ हवाओं के साथ (40-50 किमी प्रति घंटे तक की गति) की संभावना है। पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली, उत्तर प्रदेश, झारखंड, मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, उत्तरी आंतरिक कर्नाटक, केरल, जम्मू, कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान, और मुजफ्फराबाद, हिमाचल प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर बिजली गिरने की संभावना है।पश्चिम राजस्थान में अलग-अलग स्थानों पर गरज, धूल भरी आंधी, बिजली गिरने और तेज हवाएं (40-50 किमी प्रति घंटे तक की गति) की संभावना है। असम और मेघालय में अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा और तेलंगाना, कर्नाटक, अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा, तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल और केरल और माहे में अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा की संभावना है।

Sponsored




Sponsored

3 जून
पूर्वी राजस्थान में अलग-अलग स्थानों पर गरज के साथ बिजली और तेज़ हवाएं (40-50 किमी प्रति घंटे तक की गति) की संभावना है। झारखंड, केरल और माहे में अलग-अलग स्थानों पर बिजली और तेज हवाओं (30-40 किमी प्रति घंटे तक की गति) के चलने की संभावना है। मध्य प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर बिजली के साथ विदर्भ, छत्तीसगढ़, मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, ओडिशा, तेलंगाना, रायलसीमा और तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल में भी बारिश की संभावना है। असम और मेघालय और तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल में अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा की संभावना है।

Sponsored




Sponsored

4 जून
केरल और माहे में अलग-अलग स्थानों पर बिजली चमकने और तेज़ हवा (30-40 किमी प्रति घंटे तक की गति) की संभावना है। पश्चिम मध्य प्रदेश, विदर्भ, छत्तीसगढ़, मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा में अलग-अलग स्थानों पर बिजली गिरने की संभावना है। असम और मेघालय और तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल में अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा की संभावना है।

Sponsored




Sponsored

SOURCE: JAGRAN

Sponsored
Sponsored

Comment here