Breaking NewsNational

कोरोना को लेकर दिल्ली सरकार की सख्ती, अब ट्रेसिंग, टेस्टिंग, ट्रीटमेंट और आइसोलेशन सिस्टम पर होगा जोर

दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए दिल्ली सरकार (Delhi Government) अलर्ट मोड पर आ गई है. दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने गुरुवार को स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन (Satyendra Jain) और स्वास्थ्य विभाग (Health Department) के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की. इस समीक्षा बैठक में केजरीवाल ने अधिकारियों को ट्रेसिंग, टेस्टिंग, ट्रीटमेंट और आइसोलेशन सिस्टम को और सख्ती से लागू करने का निर्देश दिया है.

Sponsored

केजरीवाल ने कहा कि कोरोना केस में मामूली बढ़ोतरी हुई है. घबराने की कोई बात नहीं है. दिल्ली सरकार बहुत बारीकी से कोरोना की स्थिति पर नजर बनाए हुए है और सभी जरूरी कदम उठा रहे हैं. केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में अब 40 हजार की जगह 1.25 लोगों को प्रतिदिन वैक्सीन लगाई जाएगी. साथ ही वैक्सीनेशन सेंटर 500 से बढ़ा कर 1 हजार किए जाएंगे. सरकारी वैक्सीनेशन सेंटर्स पर अब सुबह 9 बजे से रात 9 बजे तक वैक्सीन लगाई जाएगी.

Sponsored

केंद्र सरकार सबको वैक्सीन लगाने की छूट दे- केजरीवाल
केजरीवाल ने केंद्र सरकार से अपील कि वैक्सीन सबके लिए खोल दी जाए और राज्य सरकारों को युद्ध स्तर पर वैक्सीनेशन की इजाजत दी जाए. अगर केंद्र सरकार सबको वैक्सीन लगाने की छूट देती है और हमें पर्याप्त वैक्सीन मिलती है तो हम 3 महीने में पूरी दिल्ली को वैक्सीन लगा सकते हैं. सीएम ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि वैक्सीन लगवाने में हिचकिचाए नहीं. जो लोग भी योग्य हैं, वे वैक्सीन अवश्य लगवाएं. दिल्ली सरकार बहुत बारीकी से कोरोना की स्थिति पर नजर बनाए हुए है, हम सभी जरूरी कदम उठा रहे हैं.

Sponsored

पिछले तीन दिनों से दिल्ली में केस बढ़े
अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को डिजिटल प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि दिल्ली में पिछले कुछ दिनों से कोरोना के केस में थोड़ी बढ़ोतरी देखने को मिली है. पिछले साल जून में फिर सितंबर में फिर नवंबर में अचानक से केस बढ़े थे. जब 8 हजार, 7 हजार और 6 हजार तक केस आए थे. अभी उस तरह की स्थिति तो नहीं है. पिछले कुछ हफ्तों के अंदर एक वक्त ऐसा था, जब हम लोग 100-125 केस प्रतिदिन पर पहुंच गए थे, लेकिन पिछले कुछ दिनों में खासकर पिछले 3 दिन में केस में थोड़ी बढ़ोतरी ज्यादा देखने को मिली है और कल 500 से ज्यादा केस देखने को मिले.

Sponsored

ट्रेसिंग और आइसोलेशन पर जोर
केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार के अपने जो विशेषज्ञ हैं, उनकी राय ली जा रही है. साथ ही केंद्र सरकार के जो विशेषज्ञ हैं, दिल्ली सरकार लगातार उनके भी संपर्क में बनी हुई है. उन सभी विशेषज्ञों से हम राय ले रहे हैं और वे जो-जो बता रहे हैं, वह सारे कदम उठाए जा रहे हैं. सीएम ने कहा कि चूंकि पिछले कुछ हफ्तों में केस कम हो गए थे तो पूरे सिस्टम के अंदर थोड़ी बहुत ढीलाई आ गई थी, लेकिन आज आज सख्त आदेश जारी कर दिए गए हैं कि जो हमारा ट्रैकिंग, ट्रेसिंग, आइसोलेशन के पूरे सिस्टम को और सख्ती के साथ लागू करना है. सर्विलेंस को सख्ती के साथ लागू करना है और एनफोर्समेंट बहुत सख्त करना है. अब हमें मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग जैसे सभी दिशा-निर्देशों को सख्ती के साथ लागू करनी है.

Sponsored

वैक्सीनेशन का समय सुबह 9 बजे से रात 9 बजे तक बढ़ाया
केजरीवाल ने कहा कि अभी दिल्ली में जो 30 से 40 हजार लोगों को प्रतिदिन वैक्सीन लगा रहे हैं. अब हम इसको बढ़ाकर 1.25 लाख प्रतिदिन लगाया करेंगे. इसके लिए अगले कुछ दिनों के अंदर हम अपनी क्षमता भी बढ़ा रहे हैं और वैक्सीनेशन सेंटर बढ़ा रहे हैं. अभी तक जिन सेंटर्स पर वैक्सीनेशन हो रहा है, दिल्ली के अंदर प्राइवेट और सरकारी मिल कर इसकी संख्या 500 हैं. अब इसको बढ़ाकर दोगुना किया जाएगा. अब हम इसे 500 से बढ़ा कर 1000 सेंटर तक लेकर जाएंगे. अब इन सेंटर्स पर वैक्सीनेशन का समय सुबह 9 बजे से रात 9 बजे तक बढ़ाया जा रहा है, ताकि ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाया जा सके.

Sponsored

इसके साथ ही केजरीवाल ने केंद्र सरकार से मांग की है कि वैक्सीन का काफी उत्पादन बढ़ गया है और अब यह वैक्सीन सबके लिए खोल देनी चाहिए. बताया जा रहा है कि 18 साल से कम उम्र वालों को वैक्सीन नहीं लगानी है. अभी हम यह लिस्ट जारी कर रहे हैं कि कौन योग्य है, उसकी बजाय हम एक ऐसे लिस्ट बनानी चाहिए कि कौन योग्य नहीं है. जैसे कि 18 साल से कम आयु वाले योग्य नहीं हैं और जिनके अंदर मेडिकल कंडीशंस है. बाकी सबके लिए हमें वैक्सीन खोल देनी चाहिए.

Sponsored

INPUT: NEWS18

Sponsored
Sponsored

Comment here