Sponsored
Breaking News

#CAExams: फिर उठी ICAI CA परीक्षा को स्थगित करने की मांग, छात्र बोले- पहले वैक्सीन, फिर परीक्षा

Sponsored




Sponsored

ICAI CA के छात्र एक बार फिर परीक्षाओं को स्थगित करने की मांग कर रहे हैं. CA की फाउंडेशन कोर्स की परीक्षा 24 जून से शुरू होगी. वहीं, इंटरमीडिएट और फाइनल ईयर की परीक्षाएं 5 जुलाई, 2021 से शुरू होने वाली है. कोरोना महामारी के इस संकट के बीच छात्र परीक्षा के लिए तैयार नहीं है. छात्रों का कहना है कि पहले सभी को वैक्सीन लगनी चाहिए, फिर ही परीक्षा आयोजित की जानी चाहिए. वे ICAI से कई बार परीक्षा को रद्द करने का निवेदन कर चुके हैं.

Sponsored




Sponsored

परीक्षाओं को स्थगित कराने के लिए छात्र बराबर ट्विटर पर ट्वीट कर रहे हैं. जो छात्र इस वर्ष जिन छात्रों के अंतिम प्रयास हैं, वे इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (ICAI) से एक अतिरिक्त प्रयास की भी मांग कर रहे हैं. छात्रों का कहना है कि कोरोना के कारण उनकी परीक्षाएं प्रभावित हुई हैं, ऐसे में परीक्षाओं को स्थगित किया जाना चाहिए. साथ ही जिन छात्रों का अंतिम प्रयास है उन्हें एक और मौका दिया जाना चाहिए.

Sponsored




Sponsored

छात्रों का एक तर्क यह भी है कि CMA और CS जैसे संस्थानों ने परीक्षाओं को रद्द कर दिया है. ऐसे में ICAI परीक्षा को रद्द क्यों नहीं कर सकता है? हमने इस मामले पर छात्रों से बात की और उनकी समस्या के बारे में जाना.

Sponsored




Sponsored

CA के एक छात्र अमित (बदला हुआ नाम)  ने TV9 भारतवर्ष से बातचीत में कहा, ”हम चाहते हैं की परीक्षा स्थगित कर दी जाए क्योंकि अभी हमारे राज्य में लॉकडाउन है और हमें बाहर जाने की अनुमति नहीं है. मैं खुद अभी-अभी कोविड से ठीक हुआ हूं और पढ़ने की स्थिति में नहीं हूं क्योंकि मुझे काफी कमजोरी है. मेरे कई रिश्तेदारों अब इस दुनिया में नहीं रहे. मेरा भाई भी परीक्षा देने वाला है, लेकिन मेरे परिवार को बिना वैक्सीन लगे घर से निकलने में डर है.”

Sponsored




Sponsored

आलोक (बदला हुआ नाम)  कहते हैं, ”सभी तीन पेशेवर निकाय सीए, सीएस, सीडब्ल्यूए कारपोरेट कार्य मंत्रालय के अधीन आते हैं. सीएस और सीडब्ल्यूए ने कोविड के कारण परीक्षा स्थगित कर दी है और सीए संस्थान फाउंडेशन के छात्रों के लिए 24 जून और अन्य सभी छात्रों के लिए 5 जुलाई से परीक्षा कराने जा रहा है. सीडब्ल्यूए संस्थान ने अपनी परीक्षा स्थगित कर दी है जो कि 25 जुलाई से शुरू होने वाली थी. ऐसे में ICAI ही कोविड की अनदेखी कैसे कर सकता है?”

Sponsored




Sponsored

रवि (बदला हुआ नाम) कहते हैं, ”संस्थान का मानना ​​​​है कि महीने के अंत तक महामारी खत्म हो जाएगी और वे जुलाई के पहले सप्ताह से सफलतापूर्वक परीक्षा आयोजित कर सकते हैं. लेकिन, वे इस स्थिति में छात्रों की मानसिक स्थिति और तनाव को समझने में असफल रहे हैं. हम में से कोई भी मौजूदा स्थिति के कारण पढ़ाई पर बिल्कुल भी ध्यान केंद्रित नहीं कर पा रहा है.”

Sponsored




Sponsored

हमने इस खबर में छात्रों के नाम उनके अनुरोध पर बदले हैं. छात्रों ने हमें बताया कि मीडिया में उनका नाम आने के कारण कई बार संस्थान उन पर ऐक्शन ले चुका है. छात्रों का आरोप है कि संस्थान की नीतियों का विरोध करने पर कई छात्रों के रिजल्ट भी रोके गए हैं.

Sponsored




Sponsored

ICAI का क्या कहना है?
ICAI के सेंट्रल काउंसिल मेंबर धीरज खंडेलवाल ने शनिवार को ट्वीट कर परीक्षा के स्टेटस की जानकारी दी. उन्होंने ट्वीट कर लिखा, ”आईसीएआई अध्यक्ष निहार जंबुसरिया ने कहा है कि परीक्षा आयोजित करने के लिए 5 जुलाई के आसपास अनुकूल माहौल की उम्मीद है. इसलिए छात्रों से अनुरोध करें कि वे तैयारी पर ध्यान केंद्रित करें और शेड्यूल का इंतजार न करें जो कि समय पर जारी कर दिया जाएगा.

Sponsored





Sponsored

इससे पहले भी छात्रों ने किया था आंदोलन
इससे पहले सीए की परीक्षाएं 21 मई से शुरू होने वाली थीं. ये परीक्षाएं 21 मई से 6 जून तक आयोजित की जानी थीं. लेकिन उस समय छात्रों ने परीक्षा का जमकर विरोध किया था. छात्रों ने ट्विटर पर संस्थान के खिलाफ आंदोलन छेड़ दिया था, जिसके बाद अंत में ICAI को CA की परीक्षाएं स्थगित करनी पड़ी थीं.

Sponsored




Sponsored

SOURCE: TV9

Sponsored
Sponsored
Sponsored
Bharat News Channel

Leave a Comment
Sponsored
  • Recent Posts

    Sponsored