Sponsored

बंगाल की खाड़ी में ‘चक्रवाती तूफान’, सरकार ने कई जिलों में जारी किया हाई अलर्ट

Sponsored




Sponsored

बंगाल की खाड़ी (Bay of Bengal) में ‘चक्रवाती तूफान’ (Cyclonic Storm) के मद्देनजर ओडिशा सरकार (Odisha Government) ने तटीय जिलों में हाई अलर्ट जारी कर दिया है. ओडिशा के मुख्य सचिव सुरेश चंद्र महापात्रा ने शुक्रवार को जानकारी दी कि ओडिशा के सभी तटीय और आसपास के जिलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है.

Sponsored




Sponsored

मुख्य सचिव महापात्रा ने कहा, ‘शुक्रवार को सभी लाइन के विभागों, एनडीआरएफ, तटरक्षक बल, आईएनएस चिल्का, डीजी पुलिस और डीजी फायर सर्विस के साथ बैठक की गई. महापात्रा ने कहा, ‘मौसम विभाग की भविष्यवाणियों को ध्यान में रखते हुए बिजली कंपनियों, ग्रामीण और शहरी वाटर सप्लाई विभागों, स्वास्थ्य विभागों, ओडिशा डिजास्टर रिस्पांस फोर्स और एनडीआरएफ जैसे सभी संबंधित विभागों को मैनपॉवर और जरूरी सामान के साथ तैयार रहने के लिए अलर्ट पर रखा गया है’.

Sponsored




Sponsored

‘चक्रवात’ से निपटने के लिए तैयार प्रशासन
महापात्रा ने कहा, ‘बड़े पैमाने पर चक्रवात आश्रयों और सुरक्षित भवनों की पहचान की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. राहत और बचाव के लिए जो कुछ भी जरूरी है, उसकी व्यवस्था कर ली गई है’. उन्होंने यह भी कहा कि चक्रवात से निपटने के लिए पूरा प्रशासन पूरी तरह से तैयार है. राज्य के शीर्ष अधिकारी ने कहा कि अगले दो-तीन दिनों में चक्रवात के सभी रास्तों के बारे में साफ-साफ मालूम चल जाएगा. फिर राज्य तय करेगा कि कहां ज्यादा ध्यान केंद्रित करना है.

Sponsored




Sponsored

स्पेशल रिलीफ कमिश्नर प्रदीप जेना ने बताया कि मत्स्य विभाग ने अपनी चेतावनी के माध्यम से उन मछुआरों को वापस बुला लिया गया है, जो समुद्र में थे. उन्होंने कहा कि भारतीय तटरक्षक बल के दो एयरप्लेन और शिप पारादीप समुद्र में गश्त कर रहे हैं ताकि जहाजों, मछली पकड़ने वाली नौकाओं को चक्रवात से पहले तट पर आने के लिए मार्गदर्शन दिया जा सके.

Sponsored




Sponsored

26 मई तक बंगाल की उत्तरी खाड़ी तक पहुंचेगा ‘तूफान’
मौसम विभाग ने कहा है कि 22 मई को पूर्व मध्य बंगाल की खाड़ी और उससे सटे उत्तरी अंडमान सागर के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बनने की पूरी संभावना है. इसके उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और 24 मई तक एक चक्रवाती तूफान में तब्दील होने की संभावना है. इसके बाद तूफान उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ना जारी रहेगा और तेज होता रहेगा. जानकारी के मुताबिक, यह तूफान 26 मई की सुबह ओडिशा-पश्चिम बंगाल तटों के पास यानी बंगाल की उत्तरी खाड़ी तक पहुंच जाएगा.

Sponsored




Sponsored

INPUT: TV9

Sponsored
Sponsored
Sponsored
Bharat News Channel

Leave a Comment
Share
Published by
Bharat News Channel

Recent Posts

Sponsored