Breaking NewsNational

CM केजरीवाल ने कोरोना योद्धा के परिजनों को सौंपा एक करोड़ का चेक, कहा-बेटे को नौकरी भी देगी दिल्ली सरकार!

नई दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने आज पूर्वी दिल्ली स्थित बाहुबली एन्क्लेव निवासी कोरोना योद्धा (Corona Warriors) स्वर्गीय राकेश जैन के परिवार से मुलाकात कर एक करोड़ रुपए की सहायता राशि का चेक सौंपा

Sponsored

इस दौरान अरविंद केजरीवाल ने कहा कि राकेश जैन हिंदू राव अस्पताल (Hindu Rao Hospital) में लैब टेक्निशियन थे. वे आखिरी दम तक लोगों की सेवा करते रहे. उन्होंने कहा कि किसी की जान की कीमत नहीं लगाई जा सकती, लेकिन मैं समझता हूं कि इस राशि से उनके परिवार को थोड़ी मदद मिलेगी. दिल्ली सरकार (Delhi Government) उनके बेटे को नौकरी भी देगी.

Sponsored

इस दौरान उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा कि स्वर्गीय राकेश जैन हिंदू राव अस्पताल में लैब टेक्निशियन थे. लोगों की सेवा करते हुए उन्हें खुद भी कोरोना हो गया. उनकी तबीयत खराब होने पर मेट्रो अस्पताल (Metro Hospital) में उन्हें भर्ती कराया गया था, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका और वे शहीद हो गए.

Sponsored

स्वर्गीय राकेश जैन लैब टेक्निशियन के तौर पर आखिरी दम तक लोगों की सेवा करते रहे. ऐसे हमारे जाबांज लोग, जो अपनी जान की परवाह किए बिना लोगों की सेवा कर रहे हैं, मरणोपरांत उनके परिवार की मदद करने के लिए दिल्ली सरकार एक करोड़ रुपए की राशि देती है.

Sponsored

मुख्‍यमंत्री ने कहा, ‘आज मैंने स्वर्गीय राकेश जैन के परिवार से मिलकर उन्हें एक करोड़ रुपए की सहायता राशि का चेक सौंपा. इस दौरान मैं उनकी माता, उनकी पत्नी और दोनों बच्चों से भी मिला और उन्हें हर संभव मदद देने का आश्वासन दिया.’

Sponsored

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि किसी की भी जान की कोई कीमत नहीं लगाई जा सकती है. लेकिन मैं समझता हूं कि इस राशि से उनके परिवार को थोड़ी मदद मिलेगी. उनके बड़े बेटे ने ग्रैजुएशन पूरी कर ली है और नौकरी की तलाश में हैं. दिल्ली सरकार उनको नौकरी भी देगी. जब भी उनके परिवार को किसी चीज की जरूरत होगी, हम मदद करने के लिए तैयार हैं. मैंने उनके परिवार को भरोसा दिया है कि उन्हें किसी भी तरह की चिंता करने की जरूरत नहीं है. सरकार उनके साथ खड़ी है और हर संभव मदद करेगी.

Sponsored

उल्लेखनीय है कि कोरोना योद्धा स्वर्गीय राकेश जैन नाॅर्थ एमसीडी (North MCD) के हिंदू राव अस्पताल में पैथोलाॅजी विभाग में लैब टेक्निशियन के पद पर तैनात थे. हिंदू राव अस्पताल कोविड अस्पताल (COVID Hospital) घोषित किया गया था. स्वर्गीय राकेश जैन कोरोना मरीजों की सेवा करने के दौरान खुद भी उसकी चपेट में आ गए थे और उन्हें 17 जून 2020 को प्रीत विहार स्थित मेट्रो अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां 18 जून 2020 को उनका निधन हो गया. स्वर्गीय राकेश जैन मूलरूप से दिल्ली के निवासी थे और 1988 में वे सेवा में आए थे. जून 2022 में वे सेवानिवृत्त होने वाले थे. इससे पहले ही वे कोविड की चपेट में आ गए.

Sponsored

स्वर्गीय राकेश जैन के परिवार में उनकी मां मदन जैन, पत्नी संगीता जैन और दो बच्चे हैं. उनकी पत्नी गृहणी हैं, जबकि बड़ा बेटा ग्रैजुएशन पूरी कर सर्विस की तैयारी कर रहा है और छोटा बेटा बीए कर रहा है.

Sponsored
Sponsored

Comment here