Sponsored
Breaking News

लापता जवान की बेटी ने लगाई गुʹहार, ‘नʹक्सल अंकल, प्लीज….मेरे पापा को छोड़ दो’ देखें-वीडियो

Sponsored




Sponsored

छत्तीसगढ़ के जिला बीजापुर में शनिवार को न’क्सलियों और सुरक्षा बल के बीच हुई मु’ठभेड़ के बाद रविवार को 22 जवानों के श’हादत की पुष्टि की गई थी। इनमें से 21 जवानों के पा’र्थिवशरीर को सुरक्षा बलों ने मु’ठभेड़ स्थल से हेलीकाप्टर की मदद से ससम्मान उठा लिया था। वहीं सीआरपीएफ कोबरा बटालियन के एक जवान राकेश्वर सिंह मनहास लापता थे। सोमवार को न’क्सलियों ने स्थानीय पत्रकारों को सूचना दी कि लापता जवान उनके क’ब्जे में है। साथ ही उन्होंने जवान को नु’कसान न पहुंचाने की बात भी कही है।

Sponsored




Sponsored

सूत्रों के मुताबिक जवान को मु’ठभेड़ स्थल से थोड़ी दूर एक गांव में रखा गया है। वहां आसपास न’क्सलियों की भी मौजूदगी है। इस बीच जवान की पांच साल की बेटी राघवी ने न’क्सलियों से अपने पिता को रिहा करने की अपील की है। उसने कहा, ‘पापा की परी पापा को बहुत मिस कर रही है। मैं अपने पापा से बहुत प्यार करती हूं। प्लीज न’क्सल अंकल, मेरे पापा को घर भेज दो।’

Sponsored




Sponsored

इसके बाद राघवी और उसके साथ वहां मौजूद सभी लोग रोने लगे। वहीं, जवान की पत्नी मीनू ने भी न’क्सलियों से अपने पति को रिहा करने की अपील की है। सीआरपीएफ कोबरा बटालियन के जवान राकेश्वर सिंह मनहास कोथियन जम्मू कश्मीर निवासी हैं। उनकी पदस्थापना बीजापुर जिले में है। न’क्सलियों के खिलाफ आपरेशन में वह भी शामिल थे। मु’ठभेड़ के बाद से उन्हें लापता बताया जा रहा था।

Sponsored




Sponsored

Sponsored




Sponsored

सोमवार को न’क्सलियों ने सुकमा जिले के कुछ पत्रकारों को फोन पर संपर्क कर बताया कि लापता जवान उनके क’ब्जे में है। उन्होंने कहा कि जवान पूरी तरह सु’रक्षित है और उसे जल्द ही रिहा कर दिया जाएगा। न’क्सलियों ने सुरक्षा बलों के जवानों से यह भी अपील की है कि वे आपरेशन प्रहार में शामिल न हों। इस जानकारी के बाद इंटेलीजेंस और पुलिस प्रशासन अलर्ट हो गया है और जवान की रि’हाई को लेकर प्रयास शुरू हो चुके हैं।

Sponsored




Sponsored

गांव में देखा गया जवान
सूत्रों की मानें तो फा’यरिंग के दौरान राकेश्वर सिंह मनहास के पास गोली खत्म हो गई और वह पहाड़ी के पास स्वयं को बचाने के लिए छिप गया था। जब फा’यरिंग रुकी तो वहां से राय’फल के साथ रास्ता भटक गए और एक गांव की तरफ चले गए। गांव से ठीक पहले ग्रामीण वेशभूषा में न’क्सली संगठन के संघम सदस्यों ने जवान को रोका और उसकी रायफल ले ली। इसके बाद जवान को न’क्सलियों को सौंप दिया। वहीं यह जानकारी भी मिल रही है कि जवान पहाड़ी के पास बे’होशी की हालत में मिला, जिसे ग्रामीणों ने न’क्सलियों तक पहुंचाया।

Sponsored




Sponsored

मां चिंतित, पत्नी ने लगाई गु’हार
जवान राकेश्वर सिंह मनहास के अ’पहरण की खबर मिलने के बाद से जम्मू में उनकी मां कुंती काफी चिंतित हैं। वहीं जम्मू में ही रह रही उनकी पत्नी मीनू ने पत्रकारों के माध्यम से न’क्सलियों से अपील की है कि उनके पति की सु’रक्षित रिहाई करें। सरकार से भी अपील की है कि उनके पति के रिहाई को लेकर प्रयास करें। उनकी चार वर्ष की एक बेटी है।

Sponsored




Sponsored

बीजापुर कांड में 21 जवान लापता
सुकमा में न’क्सलियों के साथ मु’ठभेड़ के दौरान 21 जवान लापता हो गए थे। इनमें से 20 के श’व रविवार को एयरफोर्स की मदद से ढूंढे गए, जबकि एक जवान राजेश्वर सिंह की तलाश अब भी जारी है। यह कहना मुश्किल है कि न’क्सलियों का दावा कितना सही है। अगर यह सच है तो संभावना है कि मु’ठभेड़ के बाद घा’यल जवान को भी अपने साथ लेकर गए होंगे।

Sponsored




Sponsored

बीजापुर न’क्सली ह’मले के बाद न’क्सल प्रभावित क्षेत्रों में अलर्ट
बीजापुर में न’क्सलियों के ब़़ड़ी वारदात के बीच पूरे राज्य में अलर्ट जारी किया गया है। खुफिया इनपुट के आधार पर स्पेशल इंटेलिजेंस ब्यूरो (एसआइबी) बस्तर संभाग के सभी जिलों के साथ ही महाराष्ट्र, झारखंड और ओडिशा से लगी सीमा के सभी जिलों को सर्चिंग बढ़ाने और अतिरिक्त स’तर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं।

Sponsored




Sponsored

INPUT: JAGRAN

Sponsored
Sponsored
Sponsored
Bharat News Channel

Leave a Comment
Sponsored
  • Recent Posts

    Sponsored